गुलशन ग्रोवर की जिंदगी पर ‘बैडमैन’ इमेज से पड़ा बुरा असर! एक्टर बोले- ‘अपना तो अपना बच्चों का भी हुआ नुकसान’

[ad_1]

मुंबई. बॉलीवुड के ‘ बैडमैन’ (Badman)  गुलशन ग्रोवर (Gulshan Grover)  ने फिल्मों में निगेटिव कैरेक्टर प्ले कर जबरदस्त स्टारडम हासिल किया है. कई बार तो ऐसा लगता है कि गुलशन की पर्सनैलिटी को ध्यान में रखकर ही कैरेक्टर लिखे जाते हैं. गुलशन हर सीन को इस कदर निभाते हैं कि दर्शकों की नफरत बटोरने में कामयाब हो जाते हैं. साल 1989 में आई अनिल कपूर और जैकी श्रॉफ स्टारर फिल्म ‘राम लखन’ में केसरिया विलायती की भूमिका निभा गुलशन घर-घर अपनी खास पहचान बनाई. कई फिल्मों में निगेटिव रोल प्ले कर उन्हें ‘बैडमैन’ का तमगा मिल गया. इसका खामियाजा भी एक्टर को भुगतना पड़ा.

टाइम्स नॉउ से बात करते हुए गुलशन ग्रोवर ने बीते दिनों को याद करते हुए बताया कि जब सुभाष घई ने उपनाम दिया था और किस तरह से फिल्म का रोल उनकी लाइफ के यादगार रोल में से एक बन गया. गुलशन ने  खुलासा करते हुए ये भी कहा कि पर्दे पर जो रोल उन्होंने प्ले किए उसका काफी बुरा असर असल जिंदगी पर भी पड़ा.

Gulshan Grover

गुलसऩ ने अपनी एक्टिंग और कैरेक्टर के दम पर इंडस्ट्री में खास पहचान बनाई है.

बच्चों को स्कूल में झेलना पड़ता था
गुलशन ग्रोवर की पर्दे पर खूंखार, लड़कियों को छेड़ते, मारपीट करते ऐसी खराब इमेज बन गई जिसकी वजह से उन्हें हर जगह अजीबो-गरीब हालात का सामना करना पड़ा. एक्टर ने बताया कि ‘अगर किसी का रिलेशनशिप किसी ऐसे के साथ है जो ‘बैड’ तो उसके फ्रेंड्स उसे चिढ़ाते कि ‘तुमको यही मिला है,गुंडा बदमाश? फिर फैमिली पर भी इसका असर पड़ा, बच्चों के लिए स्कूल में काफी मुश्किल हो जाता था.’

गुलशन को अपनी छवि का खामियाजा भुगतना पड़ा
गुलशन ग्रोवर का मानना है कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने काफी हद तक एक्टर्स की छवि सुधारने में काफी मदद की है. अब फैंस एक्टर्स के सच्चे नेचर से वाकिफ हो गए हैं. गुलशन ने मजेदार बात बताते हुए कहा ‘पहले ऐसा होता था कि किसी पार्टी में जब कोई हीरोइन मिले और गले लगाए तो हाथ पकड़ कर कहे कि आपको ‘मिस किया सर, कहां थे आप’ तो ऐसा रिएक्शन होता कि ये इसके पास से भाग क्यूं नहीं रही और ये इसके कपड़े क्यों नहीं फाड़ रहा ..अरे ये तो प्यार से गले लगाई जा रही’ अब लोग कहते हैं कि कि यार ये रो थोड़ी रही है, ये शाम को इसी गुंडे के साथ चली जाएगी, इसकी तो दोस्ती है इसके साथ’.

अब लोग समझने लगे हैं एक्टर्स का असली नेचर
गुलशन ग्रोवर ने कहा कि अब ये अंतर आया है और लोग समझने लगे हैं कि ये सिर्फ स्क्रीन पर अपना किरदार निभा रहा था.’

Tags: Gulshan grover

[ad_2]

Source link

Leave a Comment