रकुल प्रीत सिंह ने बताया क्यों वे दिवाली पर पटाखे नहीं फोड़तीं, आप भी करेंगे तारीफ

[ad_1]

नई दिल्ली: रकुल प्रीत सिंह (Rakul Preet Singh) ने उन दिनों को याद किया, जब वे दिवाली पर अपने पिता के साथ थीं. रकुल प्रीत सिंह ने बताया कि एक बार जब उनके पिता ने उन्हें पटाखे फोड़ते हुए देखा तो उन्हें 500 रुपये का नोट जलाने के लिए कहा. दरअसल, रकुल के पिता ने उन्हें सबक सिखाया था कि उन्हें पटाखे फोड़ने से क्यों बचना चाहिए.

रकुल ने दैनिक भास्कर से हुई एक बातचीत के दौरान कहा कि जब वे पांचवीं क्लास में थीं, तो उन्होंने पटाखे फोड़ना बंद कर दिया था. रकुल ने आखिरी बार दिवाली पर पटाखे तब फोड़े थे, जब वे लगभग नौ साल की थीं. वे कहती हैं, ‘वह एक यादगार दिवाली थी. मेरे पिता ने मुझे 500 रुपये का नोट दिया और मुझे इसे जलाने के लिए कहा.’

रकुल आगे बताती हैं, ‘मैं चौंक गई और उनसे पूछा कि वे मुझे ऐसा करने के लिए क्यों कह रहे हैं. उन्होंने मुझसे कहा, ‘लेकिन आप ठीक यही कर रहे हैं. आप पटाखे खरीद रहे हैं और उन्हें फोड़ रहे हैं. क्या होगा अगर आप पैसे का इस्तेमाल कुछ चॉकलेट खरीदने और जरूरतमंदों को देने के लिए करते हैं.’

उन्होंने आखिर में कहा, ‘मैं लगभग 9 या 10 साल की लड़की रही होंगी. मुझे याद है कि हम मिठाई की दुकान पर गए, मिठाइयां खरीदीं और गरीबों में बांट दीं. मैंने उस दिन एक अलग तरह की खुशी महसूस की और तब से मैंने कभी पटाखे नहीं फोड़े.’

रकुल ‘डॉक्टर जी’ में नजर आईं, जो 14 अक्टूबर को रिलीज हुई थी. वे इंद्र कुमार की ‘थैंक गॉड’ से भी दर्शकों का ध्यान खींच रही हैं, जो 25 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रिलीज हुई. अजय देवगन और सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर एक अच्छी शुरुआत की है. रकुल को एकता कपूर की दिवाली पार्टी में देखा गया था.

Tags: Rakul preet singh

[ad_2]

Source link

Leave a Comment